Top
undefined
Begin typing your search above and press return to search.

लोकसभा चुनाव २०१९ के संरक्षण में फ़ेसबुक की भूिमका

लोकसभा चुनाव २०१९ के संरक्षण में फ़ेसबुक की भूिमका

Sentinel Digital DeskBy : Sentinel Digital Desk

  |  24 Jun 2019 4:52 PM GMT

चुनाव के मौसम में नक़ली ख़बरेंअक्सर बढ़ जाती हैं।िवचारों की िविवधता मतभेदोंको बढ़ाती हैऔर इस तरह समाज को बाँटतीहै। कु छलोग ऐसेभी हैंजो अपनेस्वा र्केलिथ ए ऐसी पिरि स्थितयों का लाभ उठातेहैं।यह मुख्यतःनक़ली समाचार केिवतरण और राजनीित तथा राजनीितक दलों सेसम्बंिधत असत्य जानकारी सेिकया जाता है।यही हाल सब जगह है।अमेिरकासेलेकरबांग्लादेश तक, लोग उनको िदए गए मंचका दरुपयोग नक़ली ख़बर फै लानेकिलए करतेहैं। राजनीित सेसम्बंिधतनक़ली ख़बरेंबहुत से सामियक दंगोंऔर सामािजक अशांितको बढ़ाती हैं।इसकेकई उदाहरण हैंऔर आप इसकेबारेमेंसमाचार पहलेही अवश्य पढ़ चुकहोंगे।लोग दल िवशेषकेराजनीितक उद्देश्योंकी पू कर्ेिितलए नक़ली समाचार, भ्रामक िविडयो, झठू आिद का प्रयोग करते हैं।और भयानक बात तो यह हैिक लोग सच मेंऐसेजालों मेंफँ सरहेहैं।इस तरह की घुमावदारख़बरेंमतदाता केमन को छलनेके िलए फै लायीजाती हैंइसिलए इस तरह के अभ्यास को रोकनेकी आवश्यकता है।

फ़े सबुकद्वारा उठाए गए क़दम फ़े सबुकको नक़ली ख़बरेंफै लानेकमुख्य िकरदार होनेकी वजह सेबहुत सी आलोचना झेलनीपड़ी हैक्योंिक लगभग सभी जाली ख़बरेंऔर ग़लत सूचनाएँफ़े सबुकेमाध्यम सेही पिरचािलत होती हैं।अिधकतर जनता ख़बरों की प्रामािणकता और सूत्रजाननेका प्रयत्न नहीं करती। वो बस पढ़तेया देखतेहैं और उसेशेअरकरतेहै।और यह समाज में नफ़रत को बढ़ाता है।नक़ली ख़बरों सेलड़ने और उनकेफै लनेको रोकनेकेिलए फ़े सबुक नेबहुत सी व्यवस्थाएँकी हैं।और लोकसभा चुनाव२०१९ को नक़ली ख़बर की पकड़ से बचाव की पहल की है

  • नक़ली ख़बरों की जड़ तक पहुँचनेक िलए फ़े सबुकनेबहुत सेबड़ेभारतीय समाचार संगठनोंसेसाझेदारीकी है।

यही नहीं ब लि ् कउन्होंनेबहुत सी क्षेत्रीय भाषाओंका सहयोग भी िलया है।

  • फ़े सबुकनेउसका नया तथ्य िनरीक्षण तृतीयपक्ष ( थ रपाटीर्ड प्रोग्राम) भी लाया है।यह का र्यक्रमफ़े सबुकको

नक़ली ख़बर की धारणा की मूलजड़ तक पहुँचमेंइसकी मदद करता है। इसनेनक़ली समूहों(फ़े कग्रूप्स)और अकाउंट्स को स ् थिगत(ब्लॉक) करके उपभोक्ताओंकी सुरक्षाििचनत्श करने मेंफ़ सबुककी मदद की है।यह गंदी राजनीित को दूर करनेकेिलए िकया गया है।

(. उन्होंनेभारतीय समाचार संगठनोंके साथ काम करनेकेिलए योग्य का र्यक कीर्ताओंएकटुकड़ी भी िनयोिजत की। येलोग िमलकर फ़े सबुकेपोस्ट और गितिविधयों पर नज़र रखतेहैंतािक इसेनकारात्मक भाषणों और ग़लत सूचनाओंसेमुक्त रखा जा सके ।यह उन्हेंनक़ली समाचार और सूचनाओंकेफै लनेकी वजह सेहोनेवाली िहंसा को कम करने मेंमदद करेगा।). फ़े सबुकनेलोकसभा चुनाव२०१९ में पू पारदर्ण र्िशकोता सुिनि श्चतकरनेके िलए कु छजिटल उपकरणों को भी पिरिचत िकया है।वह िवनिभ्न राजनीितक दलों द्वारा िकए गए िवज्ञापनों पर भी नज़र रख रहे हैं।

उच्च िलिखत वा र्सेकहाता जा सकता हैिक नक़ली ख़बरों को िकसी भी क़ीमत पर फै लनेसेरोका जाना चािहए। फ़े सबुकनेचुनावकेसंरक्षण केिलए महान प्रयास िकए हैंऔर हमें भी समाज की भलाई केिलए उनके प्रयास मेंसहयोग करना चािहए।

Next Story