शीर्ष सुर्खियाँ

शाह, राजनाथ और पोखरियाल से मिले मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल राज्य के प्रमुख मसलों पर हुई चर्चा

सर्वानंद सोनोवाल

 

नई दिल्ली। असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने शुक्रवार को गृहमंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात की और उनके साथ राज्य के विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की। शाह के साथ 15 मिनट की अपनी बैठक में, सोनोवाल ने उन्हें असम की स्थिति के बारे में जानकारी दी, जहां 31 जुलाई को राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) की अंतिम सूची प्रकाशित की जाएगी। सर्वानंद सोनोवाल ने मुलाकात के बाद पत्रकारों से कहा, यह एक शिष्टाचार भेंट थी और मैंने उन्हें देश के गृहमंत्री के रूप में चुने जाने के लिए लोगों की ओर से बधाई दी। मैंने उन्हें असम की मौजूदा कानून-व्यवस्था की स्थिति के बारे में भी जानकारी दी है। सूत्रों ने कहा कि मुलाकात के दौरान एनआरसी की अंतिम सूची के प्रकाशन के बाद उत्पन्न होने वाली स्थिति से संबंधित मुद्दों पर भी चर्चा की गई। सोनोवाल ने असम के विभिन्न मुद्दों पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से भी मुलाकात की। सोनोवाल ने केंंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंकÓ से भी मुलाकात की। मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने गुवाहाटी में (नार्थ ईस्ट पुलिस) पूर्वोत्तर के एक समन्वयक केंद्र की स्थापना के लिए गृह मंत्री अमित शाह से आग्रह किया। उन्होंने कहा कि समन्वित पुलिस से इस क्षेत्र में एक बड़ा परिवर्तन होगा। बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने भारत-बंगलादेश सीमा पर बाड़ लगाने के कार्य को पूरा करने का भी आग्रह किया, साथ ही भारत-बंगलादेश सीमा के धुबड़ी सेक्टर के नदी क्षेत्र में लागू किए गए तकनीकी समाधानों की समीक्षा की भी बात कही। मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने पुलिस के आधुनिकीकरण और अन्य जरूरी मुद्दों पर भी शाह को एक स्मार-पत्र सौंपा। बैठक के दौरान चर्चा का मुख्य बिंदु था- असम पुलिस को स्मार्ट पुलिस में बदलने के लिए राज्य पुलिस बल का आधुनिकीकरण। मुख्यमंत्री ने इस विषय में केंद्रीय गृहमंत्री को अवगत करवाया। मुख्यमंत्री ने असम पुलिस प्रशिक्षण महाविद्यालय को विश्वस्तरीय पुलिस अकादमी में बदलने और असम पुलिस के साईबरडोम को मजबूत करने के लिए केंद्र सरकार से सहायता की मांग की। बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने एनआरसी अद्यतन प्रक्रिया और राज्य में 400 विदेशी पंचाटों की स्थापना के संर्दभ में भी अमित शाह को अवगत कराया। बाद में मुख्यमंत्री ने केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से नई दिल्ली स्थित उनके कार्यालय में मुलाकात की। मुलाकात के दौरान मुख्यमंत्री ने असम में सशस्त्र बलों के लिए राष्ट्रीय स्तर के प्रशिक्षण केंद्र की स्थापना पर विचार करने का उनसे अनुरोध किया। सोनोवाल ने कहा कि इसके लिए भूमि असम सरकार मुहैया करवाएगी। (आईएएनएस)

 

Also Read: शीर्ष सुर्खियाँ