Begin typing your search above and press return to search.

एनडीए संसदीय दल की बैठक आज, मोदी 30 मई को ले सकते हैं शपथ

एनडीए संसदीय दल की बैठक आज, मोदी 30 मई को ले सकते हैं शपथ

Sentinel Digital DeskBy : Sentinel Digital Desk

  |  25 May 2019 11:55 AM GMT

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव में बीजेपी के नेतृत्व वाले एनडीए की रिकॉर्ड जीत के बाद नई सरकार गठित होने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। इस क्रम में एनडीए संसदीय दल की बैठक शनिवार को शाम 5 बजे बुलाई गई है। इसमें गठबंधन के सभी नवनिर्वाचित सांसद शामिल होंगे। बताया जा रहा है कि इस दौरान औपचारिक रूप से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने दूसरे कार्यकाल के लिए 30 मई को प्रधानमंत्री पद की शपथ ले सकते हैं। उधर, शनिवार को ही बीजेपी संसदीय दल की भी बैठक होनी है।

आपको बता दें कि बीजेपी ने अकेले 302 सीटें जातकर इतिहास रच दिया है। एक सीट पर परिणाम एभी नहीं आए हैं, यहां बीजेपी आगे चल रही है। एनडीए गठबंधन की बात करें तो यह आंकड़ा 349 तक पहुंच गया है। वहीं पीए के खाते में 82 और महागठबंधन को मात्र 15 सीटें मिली हैं। भाजपा समेत समूचे सहयोगी दलो में जश्न का माहौल है और इसके साथ कैबिनेट में जगह को लेकर भी चर्चा का दौर शुरू हो गया हैं। सूत्रों के हवाले से बताया है कि इस बार पश्र्चिम बंगाल के चार सांसदों को कैबिनेट में जगह मिल सकती है।

इस बात को लेकर स्टेट बाजेपी के नेता भी आश्र्वास्त द्ख रहे हैं। दरअसल, लोकसभा चुनाव में जीत के बाद अब बीजेपी की नजर 2021 में होने वाला विधानसभा चुनाव पर हैं। फिलहाल बीजेपी के सभी सांसदों को शनिवार को दिल्ली बुलाया गया है। इससे पहले शुक्रवार को बीजेपी ने अपने संसदीय बोर्ड की बैठक में पारित प्रस्ताव के बारे में जानकारि दी।

पार्टी के टि्वटर हैंडल से किए गए ट्वीट में बताया गया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में आगामी 5 बर्षों में भारत को यशस्वी बनाते हुए नए भारत के निर्माण के लिए राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) कृतसंकल्पित होकर कार्य करेगा। एक अन्य ट्वीट में कहा गया, पिछले कार्यकाल में पीएम मोदी के नेतृत्व में सरकार की गरीब कल्याणकारी नीति, राष्ट्रीय सुरक्षा के प्रति स्पष्ट दृष्टिकोण सबका साथ-सबका विकास के मूलमंत्र के साथ भारत की वैशि्वक साख बढ़ाने के लिए यह जनता का सकारात्मक वोट है। सूत्रों ने शुक्रवार को बताया कि शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए विश्व के नेताओं को निमंत्रण भेजा जा सकता है।

2014 में दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संगठन (दक्षेस) के शासनाध्यक्षों को कार्यक्रम मेंशामिल होने के लिए बुलाया गया था।शपथ ग्रहण से पहले पहले मोदी अपने संसदीय क्षेय को लोगों को धन्यवाद देने वाराणसी जा सकते हैं। यहां से वह दूसरी बार 4,75,754 मतों के भारी अंतर से चुने गए हैं। प्रधामंत्री मोदी को कुल 6,69,602 वोट मिले, जबकि उनकी प्रतिद्वंद्वी समाजवादी पार्टी (सपा) की उम्मीदवार शालिनी यादव को 1,98,848 वोट म्ले। कांग्रेस उम्मीदवार अदय राय को 1,51,800 मत प्राप्त हुए।

पिछली बार 2014 में वापराणसी से 3.37 लाख वोटों के अंतर से चुनाव जीतने को बाद मोदी गांधीनगर में अपनी मां हीरा बेन का आशीर्वाद लेने गए थे। भारतीय जनता पार्टी की शानदार जीत के बाद प्रधानमंत्री को दुनिया भर के नेताओं से बधाई संदेश और टेलीफोन कॉल ऐए हैं. इनमें से अमेरिकी राष्ट्रपति डोनान्ड ट्रंप, रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, चीनी राष्ट्रपति शी जिंगपिंग और फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों शामिल हैं। भाजपा के सूत्रों ने कहा कि नवानिर्वाचित सांसदों को 25 मई शाम तक दिल्ली पहुंचने के लिए कहा गया है। भाजपा सांसदीय दल की एक बैठक 25 या 26 मई को हो सकती है, ज्समें मोदी को औपचारिक रूप से नेता चुना जाएगा। सूत्रों ने कहा कि पार्टी उसी दिन सरकार बनाने का दावा पेश करेगी और उसके बाद शपथ ग्रहण समारोह होने की संभावना है।

Also Read: शीर्ष सुर्खियाँ

Next Story